Fishbone Diagram in Hindi | Pdf Download | 7 QC Tools

Fishbone Diagram in Hindi | Pdf Download | 7 QC Tools

Fishbone Diagram in Hindi:- इसे Ishikawa diagram, fishbone diagram, herringbone diagram, cause-and-effect diagram या Fishikawa diagram आदि नामों से जाना जाता है। 

Fishbone diagram का निर्माण काओरू इशिकवा ने  किया था जिसका उपयोग उत्पादन की गुणवक्ता (Quality) को बढ़ाने मे किया जाता है। 

What is Fishbone | Ishikawa | Cause & Effect | Herringbone Diagram in Hindi?

फिशबोन | इशिकावा | कॉज़ एण्ड इफेक्ट डाइग्राम क्या है?

इस डाइग्राम का आकार मछली की हड्डियों के ढांचे के जैसी होती है इसलिए इस डाइग्राम को फिशबोन डाइग्राम कहा जाता है और इस तरीके को काओरू इशिकावा ने बनाया था इसलिए इसे इशिकावा डाइग्राम भी कहा जाता है।

यह भी पढ़ें

What is Check Sheet in Hindi? (चेक शीट क्या होती है?)

जैसे की इसे Cause & Effect Diagram भी कहा जाता है। इसमे किसी Effect के Potential Causes (संभावित दोष) को Identify (ढूढने) करने के लिए प्रयोग किया जाता है। 

Fishbone diagram एक विसुलाइज़ (द्रश्य) टूल है इसे किसी समस्या के संभावित कारणों को वर्गीकरण या ढूढने के लिय प्रयोग किया जाता है। किसी समस्या के मूल कारणों की पहचान करने के लिए इस उपकरण का प्रयोग किया जाता है। 

Cause & Effect Diagram मे हम किसी एफ़ेक्ट की छोटी-छोटी और संभावित समस्याओ को ढूढने की कोशिश करते है जिससे की समस्या कैसे और कहाँ से हो रहा है पता लगाया जाता है

How to make Fishbone Diagram | Ishikawa Diagram | Cause & Effect Diagram (इशिकावा डाइग्राम कैसे बनाए?)  

Fishbone Diagram in Hindi Pdf Download | 7 QC Tools
Fishbone | Ishikawa Diagram

1. अगर किसी प्रोजेक्ट को पूरा होने मे कोई समस्या या रही है और उस समस्या का सही पता नही लग रहा है। 

2. मुख्य कारण को चित्र के अनुसार सीधी लाइन की शुरूआत मे लिखते है। 

3. अगर मुख्य कारण, किसी और समस्या के वजह से या रही हो तो उन्हे चित्र के सनुसार लिखें। 4. मुख्या समस्या को एफ़ेक्ट करने वाली समस्या को लिखते है जिससे हमे पता चलता है की कहाँ पर कितनी समस्या है। 

यह भी पढ़ें 

Cycle Time vs Lead Time vs Takt Time vs Throughput Time in Hindi

नोट: यहाँ पर हम प्राथमिक कारण मे 6M (Man, Machine, Method, Mother, Material, Measurement) का उपयोग कर रहे हैं प्रॉब्लेम सोलविंग मे हम 4P (Place, Procedure, People, Policies), 4S (Surroundings, Suppliers, System, Skills) आदि का भी उपयोग कर सकते है।  

Benefits of Fishbone Diagram Seven QC Tool (Fishbone Diagram के लाभ)

 

What is the Advantage of using a fishbone diagram? (फिशबोन डाइग्राम को प्रयोग कने के क्या लाभ है?)

1. एक द्रश्य उपकरण होने के कारण इसे समझना और विश्लेषण करना आसान होता है।
2. Fishbone Diagram से समस्या के मूल कारणों की पहचान करना आसान होता है।
3. Fishbone diagram की सहायता से किसी प्रक्रिया के bottleneck का पता आसानी से लगा सकते है।
4. Fishbone diagram प्रोसेस को इम्प्रूव (Improve) करने के तरीके खोजने मे मदद करता है।
5. इससे टीम वर्क मे सुधार होता है।

6. किसी Process के संभव विभन्न प्रकार के दोषों को Identify करने के लिए Fishbone Diagram का उपयोग किया जाता है। 

 यह भी पढ़ें 

What is Check Sheet in Hindi? (चेक शीट क्या होती है?)

Cycle Time vs Lead Time vs Takt Time vs Throughput Time in Hindi

How to Calculate UPH & UPPH in Hindi?

Download PDF

Download Link 1          Download Link 2

FAQ

 

How does a fishbone diagram work?
फिशबोन डाइग्राम कैसे कार्य करता है?

Fishbone Diagram इसको Ishikawa Daigram के नाम से भी जाना जाता है। बहुत ही काम शब्दों मे कहा जाए तो Fishbone Diagram से हम किसी भी प्रॉबलम को visulize कर सकते है। जिससे की समस्या का पता आसानी से लगा लिया जाता है।

What is a fishbone diagram and when to use it?
फिशबोन डाइग्राम क्या होता है? और इसे कब प्रयोग करते है?

फिशबोन डाइग्राम एक विसुलाइज़ (द्रश्य) टूल है इसे किसी समस्या के संभावित कारणों को वर्गीकरण या ढूढने के लिय प्रयोग किया जाता है। किसी समस्या के मूल कारणों की पहचान करने के लिए इस उपकरण का प्रयोग किया जाता है।

What are the advantages of using a fishbone diagram?
Fishbone Daigram को प्रयोग करने के क्या लाभ है?

1. एक द्रश्य उपकरण होने के कारण इसे समझना और विश्लेषण करना आसान होता है।
2. Fishbone Diagram से समस्या के मूल कारणों की पहचान करना आसान होता है।
3. Fishbone diagram की सहायता से किसी प्रक्रिया के bottleneck का पता आसानी से लगा सकते है।
4. Fishbone diagram प्रोसेस को इम्प्रूव (Improve) करने के तरीके खोजने मे मदद करता है।
5. इससे टीम वर्क मे सुधार होता है।

What is 6M in fishbone diagram?
फिशबोन डाइग्राम मे 6M क्या होता है?

6M :- Man, Machine, Method, Material, Mother, Measurement.
ये सभी किसी भी प्रोसेस के महत्वपूर्ण अंग होते है। किसी भी प्रोसेस मे समस्या के उत्पन्न होना इसमे से हो सकता है इसलिए 6M को आधार मान कर फिशबोन डाइग्राम बनाया जाता है।

Fishbone diagram PDF Download in Hindi.

फिशबोन डाइग्राम की PDF इस वेबसाईट पर Download सेक्सन जाकर Download करें।

Share On

Leave a Comment