Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF :-अगर आप Newton’s Law of Cooling Formula या Newton’s Law of Cooling Example in Hindi या Newton’s Law of Cooling Questions and Answers in Hindi के बारे मे अच्छे से समझना चाहते हो तो आइए समझते है:-

Newton’s Law of Cooling in Hindi (न्यूटन का शीतलन नियम क्या है?)

न्यूटन के शीतलन नियम के अनुसार किसी वस्तु के ठंडा होने की दर उसके बाहरी वातावरण पर निर्भर करती है। न की वस्तु के तापमान पर निर्भर है। ताप मे अधिक अंतर होने पर यह नियम कार्य नही करता है।

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF
Newton’s Law of Cooling in hindi

 हम जानते है की ऊष्मा उच्च स्तर से निम्न स्तर की ओर प्रवाहित होती है, जब दो स्थानों के बीच ताप का अंतर पाया जाता है तो ऊष्मा उच्च स्तर से निम्न स्तर की ओर प्रवाहित होती है। 

यह भी पढ़ें 

Ohm’s Law in Hindi

न्यूटन के शीतलन नियम को समझने के लिए हम मान लेते है की वस्तु का तापमान, वातावरण के तापमान से अधिक है तो ऊष्मा वस्तु से प्रवाहित होकर वातावरण मे चली जाती है और वस्तु ठंडी हो जाती है। 

अब न्यूटन के शीतलन नियम को और अच्छे से समझते है, किसी गिलास मे दूध रखा है और दूध का तापमान 80 डिग्री सेल्सियस है। लेकिन दूध का गिलास जिस कमरे मे रखा है उसका तापमान 26 °C है। दूध को 80 °C से 70 °C होने मे 10 मिनट लगते है। लेकिन अब दूध को 70 °C डिग्री सेल्सियस से 60 °C होने मे 14 मिनट लगते है। 

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF
Newton’s Cooling Law Example 1

 

ऐसा इसलिए जब दूध का तापमान 80 °C था तब कमरे का तापमान 26 °C था और 10 मिनट के बाद दूध का तापमान 80 °C से घटकर 70 °C हो जाता है अतः दूध का 10 °C ऊष्मा कमरे के वातावरण मे चली जाती है जिसके कारण दूध को ज्यादा ठंडा होने मे अधिक समय लगता है। 

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF
Newton’s Cooling Law Example 2

अतः हम इस उदाहरण से समझ सकते है की जैसे-जैसे वस्तु और वस्तु के बाहर के वातावरण के तापमान का अंतर का होता जाता है वैसे-वैसे ऊष्मा के प्रवाहित होने मे समय अधिक लगता है। 

यह भी पढ़ें 

Ohm’s Law in Hindi

3G Japanese Concept in Hindi

Newton’s Law of Cooling Formula (न्यूटन के शीतलन नियम का फॉर्मूला क्या है?)

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF
Newton’s Law of Cooling Formula in hindi

(Q1-Q2)/t=K[Q1+Q2/2-कमरे का तापमान]

यह भी पढ़ें 

Ohm’s Law in Hindi

What is 5S in Hindi?

Newton’s Law of Cooling Questions and Answers in Hindi

Question 1:-किसी कमरे मे दूध का गिलास रखा है, दूध का तापमान 100°C है और कमरे का तापमान 26°C है। 10 मिनट के बाद दूध का तापमान 100 °C से घटकर 90 °C हो जाता है तो दूध का तापमान 80 °C होने मे 10 से अधिक समय लगेगा या कम समय लगेगा?

Answer:-10 मिनट से अधिक समय लगेगा। 

10 मिनट अधिक समय इसलिए लगेगा जब दूध का तापमान 100 °C था तब कमरे का तापमान 26 °C है और दूध का तापमान 100 °C से 90 °C हो जाने पर कमरे के वातावरण मे 10 °C ऊष्मा चली जाती है जिसके कारण कमरे का तापमान बढ़ जाता है और दूध को और ज्यादा ठंडा होने के लिए अधिक समय लगता है। 

Question 2:-किसी चौड़े मुंह वाले बर्तन मे 25 °C तापमान का पानी भरा है जिसमे एक दूध का गिलास रखा है और दूध का तापमान 90 °C है। अगर दूध को 90 °C से 80 °C होने मे 9 मिनट लगते है तो दूध को 80 °C से 70 °C होने मे कितना समय लगेगा?

Answer:-

Question 3:-न्यूटन का शीतलन नियम किस का विशेष विषय है?

Answer:-Stefan-Boltzmann’s  law (स्टीफन-बोल्टजमेन का नियम)

Question 3:-न्यूटन का नियम का पालन करते हुए कोई पिण्ड 80°C से 30 °C तक ठंडा होने मे 5 मिनट का समय लगते है। अतः उस पिण्ड को 80 °C से 40 °C तक ठंडा होने मे कितना समय लगेगा?

Answer:-

Newton’s Law of Cooling PDF Download in Hindi

Download Link 1               Download Link 2

Password:- rna.net.in

यह भी पढ़ें 

Ohm’s Law in Hindi

Newton’s Law of Motion in Hindi

3M in Hindi

What is 5S in Hindi?

What is Kaizen in Hindi?

What is Poka Yoke in Hindi?

7 Quality Control Tools in Hindi?

FAQ

What is Newton’s Law of Cooling Class 11?
11 वीं कक्षा के लिए न्यूटन का शीतलन नियम क्या है?

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF

न्यूटन के शीतलन नियम के अनुसार किसी वस्तु के ठंडा होने की दर उसके बाहरी वातावरण पर निर्भर करती है। न की वस्तु के तापमान पर निर्भर है। ताप मे अधिक अंतर होने पर यह नियम कार्य नही करता है।

How do you calculate the rate of cooling?
शीतलन को कैसे मापा जाता है?

Newton’s Law of Cooling in Hindi | न्यूटन का शीतलन नियम क्या है? | PDF

न्यूटन के शीतलन नियम के अनुसार किसी वस्तु के ठंडा होने की दर उसके बाहरी वातावरण पर निर्भर करती है। न की वस्तु के तापमान पर निर्भर है। ताप मे अधिक अंतर होने पर यह नियम कार्य नही करता है।
(Q1-Q2)/t=K[Q1+Q2/2-कमरे का तापमान]

न्यूटन के शीतलन नियम की सीमाएं क्या होती है?

1. वस्तु और वातावरण के तापमान मे कम से कम 30 °C का अंतर होना चाहिए।
2. ऊष्मा का ट्रांसफर विकिरण के द्वारा होना चाहिए, तभी यह नियम कार्य करता है।

Newton’s Law of Cooling Convection in Hindi?
न्यूटन का शीतलन संवहन नियम क्या होता है?

न्यूटन के शीतलन नियम के अनुसार किसी वस्तु के ठंडा होने की दर उसके बाहरी वातावरण पर निर्भर करती है। न की वस्तु के तापमान पर निर्भर है। ताप मे अधिक अंतर होने पर यह नियम कार्य नही करता है।
(Q1-Q2)/t=K[Q1+Q2/2-कमरे का तापमान]

Share On

Leave a Comment