Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF

Contents hide
1 Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF

 Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF:-अगर आपको Ohm’s Law Definition in Hindi या Ohm’s Law Formula in Hindi या ओम का नियम क्या है? या Class 10 Ohm’s Law in Hindi इन प्रश्नों के उत्तर यहाँ मिलेंगे। ओम का नियम को जर्मनी के भौतिक शास्त्री और प्रोफेसर जॉर्ज साइमन ओम ने सन् 1827 मे प्रतिपादित किया। 

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF
Ohm’s Law in Hindi

Ohm’s Law in Hindi? (ओम का नियम की परिभाषा क्या है?)

ओम के नियम के अनुसार किसी चालक की भौतिक स्थिति (लंबाई, मोटाई, ताप आदि) मे परिवर्तन नही किया जाए तो उस चालक के सिरों पर उत्पन्न विभान्तर, चालक मे वहने वाली धारा के समानुपाती होता है।  

अर्थात्

V∝I

या ,

V=R×I

या,

R=V/I

Ohm’s Law Formula in Hindi (ओम के नियम का सूत्र क्या है?)

ओम का नियम विभान्तर (Potential या Voltage), धारा (Current) और प्रतिरोध (Resistance) के बीच संबंध को बताता है। ओम का सूत्र इस प्रकार है। 

R=V/I

यहाँ:-

V=विभान्तर (वोल्टेज), इकाई वोल्ट (V) है। 

I=धारा (करंट), इकाई एम्पियर (A) है। 

R=प्रतिरोध (रीज़िस्टेन्स), इकाई ओम (Ω) है। 

Current Formula in Hindi (धारा का सूत्र क्या है?)

ओम की नियम की सहायता से आपको यदि धारा का मान निकालना हो तो आप इस प्रकार निकाल सकते है:-

Curren Formula:- I=V/R

यह भी पढ़ें 

3G Japanese Concept in Hindi

Newton’s Law of Cooling in Hindi

Voltage Formula in Hindi (विभान्तर या वोल्टेज का सूत्र क्या है?)

ओम के नियम की सहायता से आपको वोल्टेज का मान निकालना हो तो आप इस प्रकार निकाल सकते है:-

Voltage Formula:- V=R×I

Resistance Formula in Hindi (प्रतिरोध का सूत्र क्या है?)

Resistance Formula:- R=V/I

Father of Ohm’s Law in Hindi (ओम के नियम के खोजकर्ता कौन है?)

ओम का नियम को जर्मनी के भौतिक शास्त्री और प्रोफेसर जॉर्ज साइमन ओम ने सन् 1827 मे प्रतिपादित किया। 

यह भी पढ़ें 

What is 5S in Hindi?

Newton’s Law of Cooling in Hindi

Definition of Ohm’s Law in Hindi (ओम के नियम की क्या परिभाषा है?)

ओम के नियम के अनुसार किसी चालक की भौतिक स्थिति (लंबाई, मोटाई, ताप आदि) मे परिवर्तन नही किया जाए तो उस चालक के सिरों पर उत्पन्न विभान्तर, चालक मे वहने वाली धारा के समानुपाती होता है।  

ओम का नियम विभान्तर (Potential या Voltage), धारा (Current) और प्रतिरोध (Resistance) के बीच संबंध को बताता है।

R=V/I

यहाँ:-

V=विभान्तर (वोल्टेज), इकाई वोल्ट (V) है। 

I=धारा (करंट), इकाई एम्पियर (A) है। 

R=प्रतिरोध (रीज़िस्टेन्स), इकाई ओम (Ω) है। 

What is Voltage in Hindi? (विभान्तर क्या होता है?)

किसी चालक मे धारा के बहने के दबाब को ही वोल्टेज कहते है इसका SI मात्रक वोल्ट (v) है। 

What is Current in Hindi? (धारा क्या होती है?)

किसी चालक मे आवेशों (इलेक्ट्रॉन) के बहने को धार कहते है। इसकी SI मात्रक एम्पियर (A) होता है। 

What is Resistance in Hindi? (प्रतिरोध क्या होता है?)

किसी चालक मे धारा के बहने मे कोई रूकावट आए तो उसे प्रतिरोध कहते है। इसका मात्रक ओम (Ω) होता है। 

How to Use Ohm’s Law? (ओम के नियम का प्रयोग कैसे करें?)

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF
Ohm’s Law Formula in Hindi

हमारे पास कोई LED (Light Emitting Diode) है जो की 2V की है और हमे 2V की LED को चलाना है  हमारे पास 9V की बैटरी है। अगर हम 2V की LED को 9V की बैटरी से पावर देते है तो उसी समय LED खराब हो जाएगी। तो हम ऐसा क्या करें की 2V की LED को 9V की बैटरी से चालू कर सकते है। 

LED पर 2V के साथ उसका धारा का मान एम्पियर (20mA) मे लिखा होता है। अतः हमे ओम के नियम से पता चल जाएगा की कितने ओम का रेसिस्टोर, हमे LED और बैटरी के बीच लगाना है। इस नियम मे हम का से काम दो मान पता होने चाहिए तभी हम तीसरे की वैल्यू को निकाल सकते है। 

ओम का नियम:- R=V/I

R=9V/ 0.02A (यहाँ:- 1 एम्पियर मे 1000 मिली एम्पियर होते है।)

R=450Ω (अतः हम LED और बैटरी के बीच 450Ω का प्रतिरोध लगा दिया जाए तो LED आसानी से जल जाएगी।)

यह भी पढ़ें 

What is Kaizen in Hindi?

Example 1:-यदि धारा (I)= 12A, वोल्टेज (V)=4V हो तो प्रतिरोध (R) का मान क्या होगा?

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF
Ohm’s Law Formula R=?

Formula:-R=V/I (R=12/4) R=3Ω

Example 2:-यदि प्रतिरोध (R)=450Ω, धारा (I)=5A हो तो वोल्टेज (V) का मान क्या होगा?

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF
Ohm’s Law Formula V=?

Formula:-V=R×I (V=450×5) V=2250V

Example 3:-यदि वोल्टेज (V)=10V, प्रतिरोध (R)=350Ω हो तो धारा (I) का मान क्या होगा?

Ohm’s Law in Hindi | ओम का नियम क्या है? | PDF
Ohm’s Law Formula I=?

Formula:-I=V/R (10/350) I=0.028A

Ohm’s Low PDF Download in Hindi

Download Link 1             Download Link 2

Password:-rna.net.in

यह भी पढ़ें 

Newton’s Law of Cooling in Hindi

3G Japanese Concept in Hindi

3M in Hindi

What is 5S in Hindi?

What is Kaizen in Hindi?

7 Quality Control Tools in Hindi?

FAQ

ओम का नियम किसे कहते है?

ओम के नियम के अनुसार किसी चालक की भौतिक स्थिति (लंबाई, मोटाई, ताप आदि) मे परिवर्तन नही किया जाए तो उस चालक के सिरों पर उत्पन्न विभान्तर, चालक मे वहने वाली धारा के समानुपाती होता है।
R=V/I

Ohm’s Law Definition in Hindi?
ओम के नियम की परिभाषा क्या है?

ओम के नियम के अनुसार किसी चालक की भौतिक स्थिति (लंबाई, मोटाई, ताप आदि) मे परिवर्तन नही किया जाए तो उस चालक के सिरों पर उत्पन्न विभान्तर, चालक मे वहने वाली धारा के समानुपाती होता है।
R=V/I

Ohm’s Law in English?

According to Ohm’s law, if the physical position (length, thickness, temperature, etc.) of a conductor is not changed, then the potential difference across the conductor is proportional to the current flowing through the conductor.
R=V/I

प्रतिरोध क्या है?

किसी चालक मे धारा के बहने मे कोई रूकावट आए तो उसे प्रतिरोध कहते है। इसका मात्रक ओम (Ω) होता है। 

Share On

Leave a Comment